|| || WELCOME TO BHARTIYA NEWS || || भारतीय न्यूज़ वेब टीवी में आपका स्वागत है/ राष्ट्रीय ख़ोज न्यूज़ टीवी चैनल में आपका स्वागत है|| || देखिये देश- विदेश की मुख्य खबरें || ||WELCOME TO BHARTIYA NEWS || || देखिये देश की ताज़ा एवं तेज तर्रार खबरें || || विज्ञापन देने के लिए सम्पर्क करें || || WELCOME TO BHARTIYA NEWS || ||

13 दिसंबर को हरियाणा के हस्पतालो में ओपीडी रहेगी बंद, ACS से नाराज हो 5 मिनट बाद ही बैठक से निकले डॉक्टर!*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय ख़ोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
13 दिसंबर को हरियाणा के हस्पतालो में ओपीडी रहेगी बंद, ACS से नाराज हो 5 मिनट बाद ही बैठक से निकले डॉक्टर!*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
चंडीगढ़ ;- हरियाणा सिविल मेडिकल सर्विसेज एसोसिएशन से जुड़े डॉक्टर 13 दिसंबर को राज्य-व्यापी हड़ताल पर रहेंगे। एसोसिएशन ने स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (ACS) के खराब रवैये से नाराज होकर यह फैसला लिया। उधर स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक वीणा सिंह ने एसोसिएशन से कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए हड़ताल पर न जाने की अपील की है।
दरअसल हरियाणा सिविल मेडिकल सर्विसेज एसोसिएशन के पदाधिकारियों को शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक वीणा सिंह ने बातचीत के लिए अपने दफ्तर बुलाया। यहां तकरीबन 2 बजे दोनों पक्षों में वार्ता हुई। इसके बाद डीजी वीणा सिंह के अनुरोध पर एसोसिएशन के राज्य प्रधान जसबीर सिंह परमार की अध्यक्षता में पांच मेंबरी प्रतिनिधिमंडल बातचीत के लिए हेल्थ विभाग के ACS से मिलने चंडीगढ़ सचिवालय गया।

मीटिंग छोड़कर निकले डॉक्टर

चंडीगढ़ सचिवालय में इस प्रतिनिधिमंडल की शाम तकरीबन 5 बजे ACS के मीटिंग हुई जो बमुश्किल पांच मिनट चली। ACS के रवैये से नाराज एसोसिएशन के पदाधिकारी मीटिंग छोड़कर बाहर आ गए। इसके बाद एसोसिएशन के राज्य प्रधान जसबीर सिंह परमार ने जिला एसोसिएशन से बातचीत की और 13 दिसंबर की ओपीडी बंद रखने का फैसला लिया गया।

परमार ने कहा कि यदि सरकार ने 13 दिसंबर तक उनकी मांगों पर संज्ञान नहीं लिया तो 14 दिसंबर से वह एमरजेंसी सेवाएं भी बंद कर देंगे। उधर स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक वीणा सिंह ने एसोसिएशन से कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए हड़ताल पर न जाने की अपील की है।

प्रदेश में स्पेशिलस्ट के 2 हजार पद, 1300 खाली

एसोसिएशन एसएमओ की सीधी भर्ती पर रोक, स्पेशलिस्ट के खाली पद भरने और पोस्ट ग्रेजुएशन पॉलिसी में संशोधन की मांग कर रही है। सिविल मेडिकल एसोसिएशन की पंचकूला जिला इकाई के प्रधान मंदीप सिंह ढिल्लों ने बताया कि प्रदेश में स्पेशिलस्ट डाक्टर के दो हजार पद मंजूर हैं जिनमें से 1300 खाली पड़े हैं। इस समय केवल 700 स्पेशिलस्ट डॉक्टर सेवाएं दे रहे हैं। हरियाणा की आबादी तकरीबन तीन करोड़ है और इस लिहाज से 42 से 45 हजार लोगों पर महज एक स्पेशलिस्ट डॉक्टर है।

मंदीप सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के ACS का एसोसिएशन प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत का रवैया बहुत ही खराब था इसलिए एसोसिएशन ने फैसला लिया है कि अब ACS के साथ कोई बातचीत नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!