|| || WELCOME TO BHARTIYA NEWS || || भारतीय न्यूज़ वेब टीवी में आपका स्वागत है/ राष्ट्रीय ख़ोज न्यूज़ टीवी चैनल में आपका स्वागत है|| || देखिये देश- विदेश की मुख्य खबरें || ||WELCOME TO BHARTIYA NEWS || || देखिये देश की ताज़ा एवं तेज तर्रार खबरें || || विज्ञापन देने के लिए सम्पर्क करें || || WELCOME TO BHARTIYA NEWS || ||

स्थानीय निकाय मन्त्री विज का निर्देश, हरियाणा के नगर निकायों में एनफोर्समेंट ब्रांच का होगा गठन*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय ख़ोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
स्थानीय निकाय मन्त्री विज का निर्देश, हरियाणा के नगर निकायों में एनफोर्समेंट ब्रांच का होगा गठन*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
चण्डीगढ ;- हरियाणा के शहरी स्थानीय निकाय मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश के नगर निकायों में एनफोर्समेंट ब्रांच का गठन किया जाएगा ताकि अतिक्रमण व निर्माण कार्यों की गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा सकें। इस एनफोर्समेंट ब्रांच में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों की अतिक्रमण व निर्माण कार्यों से संबंधित गतिविधियों पर नजर रखने की पूरी जिम्मेदारी होगी।
श्री विज आज यहां शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारियों के साथ विभाग से संबंधित गतिविधियों व कार्यांे की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि नगर निकायों के तहत चल रहे विकास कार्यों के लिए एक पोर्टल तैयार किया जाए ताकि इन विकास कार्यों के स्तर की जानकारी इस पोर्टल पर डाली जा सकें और समय-समय पर इन कार्यों की समीक्षा भी की जा सकें। इस संबंध में विभाग के अधिकारियों ने शहरी स्थानीय निकाय मंत्री को अवगत कराया कि इंजिनियरिंग कार्यों से संबंधित एक सामुहिक पोर्टल को तैयार किया गया जिसमें विभिन्न विभागों के अंतर्गत चल रहे विकास कार्यों की निगरानी व समीक्षा करने का कार्य होगा। इस पर श्री विज ने कहा कि निकायों के अंतर्गत चल रहे पुराने विकास कार्यों की निगरानी व समीक्षा के लिए कोई एक ऐसी प्रणाली विकसित की जाए ताकि विकास कार्यों के स्तर की जानकारी समय-समय पर मिलती रहे।
इसी प्रकार, श्री विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि ज्वाइंट वेंचर के तहत कई बार पात्रता न रखने वाले ठेकेदार भी टेंडर को भर देते हैं और ठेका उठा लेते हैं और बाद में विकास कार्य करवाने में उनको दिक्कत होती है। इसलिए ऐसा सिस्टम तैयार किया जाए कि वित्तीय स्तर को ध्यान में रखते हुए ठेकेदारों को उनकी पात्रता के तहत ठेका आंबटित हो और यदि किसी ठेकेदार ने अपनी वित्तीय स्तर की पात्रता एक शहर में ठेका लेने के दौरान दर्शायी है तो उस विकास कार्य के चलने के दौरान दूसरा ठेका ऐसे ठेकेदार को न दिया जाए अर्थात ‘‘उदाहरण के तौर पर यदि किसी एक ठेकेदार ने पात्रता के अनुसार एक करोड़ रूपए का अपना वित्तीय स्तर ठेेका लेने के दौरान दिखाया है तो उस कार्य के दौरान ऐसे ठेेकेदार को दूसरा ठेेका न देने का प्रावधान होना चाहिए जब तक वह अपने पहले ठेके का कार्य समाप्त नहीं कर देता’’।
श्री विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि नगर निकायों के तहत शहरों की सफाई बहुत जरूरी है और इसलिए सफाई कर्मचारियों व ठेकेदार के सफाई कर्मचारियों की जीपीएस सहित बायो-मीट्रिक हाजिरी का प्रावधान हो। इसी प्रकार, स्वच्छ हरियाणा ऐप के तहत बैकअप टीमों का जल्द से जल्द गठन किया जाए औन इन टीमों में किन-किन कर्मचारियों को इंचार्ज व वाहन सहित नियुक्त किया गया है इसका ब्यौरा उन्हें अवगत कराया गया ताकि ये कर्मचारी तुरंत प्रभाव से शिकायत प्राप्त अमुक स्थान की सफाई व लाईटिंग व्ववस्था को दुरूस्त कर सकें।
बैठक के दौरान नगर निकायों में विभिन्न रिक्त पदों को भरने के संबध में भी श्री विज ने अधिकारियों को निर्देश दिए ताकि निकायों के कार्य में किसी भी प्रकार बाधा न उत्पन्न हो। इसी प्रकार, उन्होंने अधिकारियों को नगर निगम आयुक्त कार्यालय में कोर्ट केसों को कम करने व निपटाने के लिए एडीए के पद को सृृजित करने के निर्देश दिए ताकि निकायों के कार्य को सुचारू किया जा सके। ऐसे ही, उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि हर निकाय में लीगल सैट-अप तैयार किया जोकि निकायों के कोर्ट केसों को निपटाने का कार्य करेगा।
बैठक में शहरी स्थानीय निकाय विभाग के प्रधान सचिव श्री अरूण कुमार गुप्ता और महानिदेशक श्री डी. के. बेहरा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
——-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!